Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_grid_manager_object.labels.php on line 2

Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_shortcode_object.labels.php on line 2

Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_factory_object.labels.php on line 2
War of the Indian History – Exam Guider

War of the Indian History

War of the Indian History

ई.पू.
३२६ हाईडेस्पीज का युद्ध : सिकंदर और पंजाब के राजा पोरस के बीच जिसमे सिकंदर की विजय हुई |
२६१ कलिंग की लड़ाई : सम्राट अशोक ने कलिंग पर आक्रमण किया था और युद्ध के रक्तपात से विचलित होकर उन्होंने युद्ध
vowed to do | AD 712 – Battle of Sindh Muhammad Qasim, set the power of the Arabs |
1,191th – Train of the First War – Mohammad Ghori and Prithvi Raj Chauhan was among |
Chauhan’s victory |
1192 – Train of the Second war – between Mohammed Ghori and Prithviraj Chauhan |
The victory of Mohammad Ghauri |
1194 – War of Chandavar – it Jaychand Muhammad Ghori defeated the king of Kannauj |
1526 – First Battle of Panipat -between the Mughal Emperor Babur and Ibrahim Lodi |
in 1527 – Battle of Khanwa – The Babur defeated Rana Sanga |
1,529 – skirt the war – the Afghans led by Babur defeated Mahmud Lodhi |
1539 – War of chausa – Humayu defeated by Sher Shah Suri in |
1,540 – Kannauj (Bilgram the war): the re-Sher Shah Suri defeated Humayun and forced to leave India |
1556 – Second Battle of Panipat: between Akbar and Hemu |
in 1565 – Talikota of the war: the war to an end by the Vijayanagar Empire Because the Bijapur, Bidar, Ahmednagar and Golconda organized army fought |
1,576 – turmeric Valley War: between Akbar and Rana Pratap, the defeat of Rana Pratap |
in 1757 – Battle of Plassey: between British and Sirajuddaulah, which British triumphed and the foundation of British rule in Indiawas |
1760 – Wandiwas the war : between the British and Fransisio, which has lost Fransisio |
1761 – Third Battle of Panipat: Ahmed Shah Abdali and the Mratho | which the French were defeated |
1764 – Battle of Buxar: British and Shujauddula, the combined forces of Mir Qasim and Shah Alam II | British prevailed | British regarded as the supreme power in India |
from 1,767 to 69 – First Mysore War: Hyder Ali and among the British, which the British were defeated |
1780-84 – Second Mysore War: between Hyder Ali and the British, who left unsettled |
1790 – Third Anglo-Mysore War: The battle between Tipu Sultan and the British ended by the Treaty |
1799 – Fourth Anglo-Mysore War: Tipu Sultan and the British, Tipu’s defeat and collapse of power Mysore |
1849 – chilean the war: the East India Company and was among the Sikhs which Sikhs were defeated |
1962 – Sino-Indian border युद्ध : चीनी सेना द्वारा भारत के सीमा क्षेत्रो पर आक्रमण | कुछ दिन तक युद्ध होने के बाद एकपक्षीय युद्ध विराम की घोषणा | भारत को अपनी सीमा के कुछ हिस्सों को छोड़ना पड़ा |
१९६५ – भारत पाक युद्ध : भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध जिसमे पाकिस्तान की हार हुई | फलस्वरूप बांग्लादेश एक स्वतन्त्र देश बना | १९९९ -कारगिल युद्ध : जम्मू एवं कश्मीर के द्रास और कारगिल क्षेत्रो में पाकिस्तानी घुसपैठियों को लेकर हुए युद्ध में पुनः पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा और भारतीयों को जीत मिली |

 

भारतीय इतिहास के प्रमुख युद्ध
ई.पू.
३२६ हाईडेस्पीज का युद्ध : सिकंदर और पंजाब के राजा पोरस के बीच जिसमे सिकंदर की विजय हुई |
२६१ कलिंग की लड़ाई : सम्राट अशोक ने कलिंग पर आक्रमण किया था और युद्ध के रक्तपात से विचलित होकर उन्होंने युद्ध न करने की कसम खाई |
ईस्वी
७१२ – सिंध की लड़ाई में मोहम्मद कासिम ने अरबों की सत्ता स्थापित की |
११९१ – तराईन का प्रथम युद्ध – मोहम्मद गौरी और पृथ्वी राज चौहान के बीच हुआ था | चौहान की विजय हुई |
११९२ -तराईन का द्वितीय युद्ध – मोहम्मद गौरी और पृथ्वी राज चौहान के बीच| इसमें मोहम्मद गौरी की विजय हुई |
११९४ -चंदावर का युद्ध – इसमें मुहम्मद गौरी ने कन्नौज के राजा जयचंद को हराया |
१५२६ -पानीपत का प्रथम युद्ध -मुग़ल शासक बाबर और इब्राहीम लोधी के बीच |
१५२७ -खानवा का युद्ध – इसमें बाबर ने राणा सांगा को पराजित किया |
१५२९ -घाघरा का युद्ध -इसमें बाबर ने महमूद लोदी के नेतृत्व में अफगानों को हराया |
१५३९ – चौसा का युद्ध – इसमें शेरशाह सूरी ने हुमायु को हराया |
१५४० – कन्नौज (बिलग्राम का युद्ध) : इसमें फिर से शेरशाह सूरी ने हुमायूँ को हराया व भारत छोड़ने पर मजबूर किया |
१५५६ – पानीपत का द्वितीय युद्ध :अकबर और हेमू के बीच |
१५६५ – तालीकोटा का युद्ध : इस युद्ध से विजयनगर साम्राज्य का अंत हो गया क्यूंकि बीजापुर, बीदर,अहमदनगर व गोलकुंडा की संगठित सेना ने लड़ी थी |
१५७६ – हल्दी घाटी का युद्ध : अकबर और राणा प्रताप के बीच, इसमें राणा प्रताप की हार हुई |
१७५७ – प्लासी का युद्ध : अंग्रेजो और सिराजुद्दौला के बीच, जिसमे अंग्रेजो की विजय हुई और भारत में अंग्रेजी शासन की नीव पड़ी |
१७६० – वांडीवाश का युद्ध : अंग्रेजो और फ्रांसीसियो के बीच, जिसमे फ्रांसीसियो की हार हुई |
१७६१ -पानीपत का तृतीय युद्ध :अहमदशाह अब्दाली और मराठो के बीच | जिसमे फ्रांसीसियों की हार हुई |
१७६४ -बक्सर का युद्ध : अंग्रेजो और शुजाउद्दौला, मीर कासिम एवं शाह आलम द्वितीय की संयुक्त सेना के बीच | अंग्रेजो की विजय हुई | अंग्रेजो को भारत वर्ष में सर्वोच्च शक्ति माना जाने लगा |
१७६७-६९ – प्रथम मैसूर युद्ध : हैदर अली और अंग्रेजो के बीच, जिसमे अंग्रेजो की हार हुई |
१७८०-८४ – द्वितीय मैसूर युद्ध : हैदर अली और अंग्रेजो के बीच, जो अनिर्णित छूटा |
१७९० – तृतीय आंग्ल मैसूर युद्ध : टीपू सुल्तान और अंग्रेजो के बीच लड़ाई संधि के द्वारा समाप्त हुई |
१७९९ – चतुर्थ आंग्ल मैसूर युद्ध : टीपू सुल्तान और अंग्रेजो के बीच , टीपू की हार हुई और मैसूर शक्ति का पतन हुआ |
१८४९ – चिलियान वाला युद्ध : ईस्ट इंडिया कंपनी और सिखों के बीच हुआ था जिसमे सिखों की हार हुई |
१९६२ – भारत चीन सीमा युद्ध : चीनी सेना द्वारा भारत के सीमा क्षेत्रो पर आक्रमण | कुछ दिन तक युद्ध होने के बाद एकपक्षीय युद्ध विराम की घोषणा | भारत को अपनी सीमा के कुछ हिस्सों को छोड़ना पड़ा |
१९६५ – भारत पाक युद्ध : भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध जिसमे पाकिस्तान की हार हुई | फलस्वरूप बांग्लादेश एक स्वतन्त्र देश बना |
१९९९ -कारगिल युद्ध : जम्मू एवं कश्मीर के द्रास और कारगिल क्षेत्रो में पाकिस्तानी घुसपैठियों को लेकर हुए युद्ध में पुनः पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा और भारतीयों को जीत मिली |
.

.

1. स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में हुए विश्व धर्म सम्मेलन को कब संबोधित किया।
– 1893 में
2. मैं देश का बालू से ही कांग्रेस से भी बड़ा आंदोलन खड़ा कर दूंगा, यह कथन किसका है।
– महात्मा गांधी
3. भारत, भारतीयों के लिए है, यह नारा दिया था।
– आर्यसमाज
4. जलियांवाला बाग हत्याकांड के विरोध में महात्मा गांधी ने कौनसी उपाधि वापस लौटा दी।
– कैसर-ए-हिंद
5. जलियांवाला बाग हत्याकांड के विरोध में जमनालाल बजाज ने कौनसी उपाधि वापस लौटा दी।
– राय बहादुर
6. जलियांवाला बाग हत्याकांड के विरोध में रवींद्रनाथ टैगोर ने कौनसी उपाधि वापस लौटा दी।
– सर
7. जलियावाला हत्याकांड कब हुआ।
-13 अप्रैल 1919
8. गुप्त वंश का संस्थापक था।
– श्रीगुप्त
9. खिलजी वंश का संस्थापक था।
– जलालुद्दीन खिलजी
10. गुलाम वंश का संस्थापक था।
– कुतुबुद्दीन ऐबक
11. बक्सर का युद्ध किसके बीच हुआ था।
– अंग्रेज व मीरकासिम
12. भारत पाकिस्तान का प्रथम युद्ध कब हुआ था।
-1965
13. भारत व चीन में प्रथम युद्ध कब हुआ था।
-1962
14. स्वामी विवेकानंद को विवेकानंद की उपाधि किसने दी।
– खेतड़ी महाराजा अजीतसिंह
15. भारत में निर्मित प्रथम कंप्यूटर का नाम क्या है।
– सिद्धार्थ
16. कंप्यूटर दिवस कब मनाया जाता है।
– दो दिसंबर
17. भारत पहली राजनीतिक पार्टी जिसने इंटरनेट पर अपना वेबसाइट बनाया।
– भारतीय जनता पार्टी
18. भारत की सिलिकॉन घाटी कहां पर स्थित है।
– बंगलौर
19. भारत में पहला कंप्यूटर कहां पर लगाया गया।
– बंगलौर के प्रधान डाकघर में
20. कंप्यूटर को हिंदी में क्या कहते हैं।
– संगणक

1. रणथंभौर के जैन मंदिर का शिखर किसने बनावाया था।
– पृथ्वीराज तृतीय
2. चंदावर का युद्ध (1914) किसके मध्य लड़ा गया था।
– जयचंद व मोहम्मद गौरी
3. अजमेर में स्थित अढाई दिन का झोपड़ा से पहले उसमे एक विद्यालय था, जिसका निर्माण करवाया था।
– विग्रहराज चतुर्थ
4. लाल सागर व भूमध्य सागर को जोड़ने वाली नहर है।
– स्वेज नहर
5. एशिया को यूरोप से कौनसा पर्वत अलग करता है।
– काकेशश
6. एशिया शब्द की उत्पत्ति किस भाषा के शब्द से हुई है।
– हिब्रू भाषा के आसु शब्द
7. पृथ्वी पर दिन व रात बराबर कब होते हैं।
– 22 सितंबर व 21 मार्च
8. पृथ्वी पर उत्तरी गोलार्ध में सबसे बड़ा दिन कब होता है।
– 21 जून
9. पृथ्वी पर दक्षिणी गोलार्ध में सबसे बड़ा दिन कब होता है।
– 22 दिसंबर
10. भारतीय सुधार समिति की स्थापना किसने की।
– दादा भाई नौरोजी
11. कांग्रेस अपने पतन की ओर लड़खड़ाती हुई जा रही है, यह कथन किसका है।
– कर्जन का
12. 1857 में हुई क्रांति में बरेली का नेतृत्व किसने किया।
– खान बहादुर खां
13. तात्या टोपे का वास्तविक नाम क्या था।
– रामचंद्र पांडुरंग
14. अकबर द्वारा भूराजस्व हेतु अपनाई दहसाला नाम की प्रणाली को अन्य किस नाम से जाना जाता है।
– टोडमल बंदोबस्त
15. गुलाब से इत्र निकालने की विधि किसने खोजी थी।
– अस्मत बेगम
16. राजतरंगिणी की रचना किसने की।
– कल्हण
17. दिल्ली पर प्रथम अफगान राज्य की स्थापना करने का श्रेय किसे दिया जाता है।
– बहलोल लोदी
18. आगरा शहर की स्थापना किसने की।
– सिकंदर लोदी
19. किसके शासनकाल में अमीरों का महत्व चरमोत्कर्ष पर था।
– लोदी वंश
20. इटली का यात्री निकोलो कांटी किसके शासन काल में विजयनगर आया था।
– देवराय प्रथम

भारतीय इतिहास के प्रमुख युद्ध

ई.पू.
३२६ हाईडेस्पीज का युद्ध : सिकंदर और पंजाब के राजा पोरस के बीच जिसमे सिकंदर की विजय हुई |
२६१ कलिंग की लड़ाई : सम्राट अशोक ने कलिंग पर आक्रमण किया था और युद्ध के रक्तपात से विचलित होकरउन्होंने युद्ध न करने की कसम खाई |
ईस्वी
७१२ – सिंध की लड़ाई में मोहम्मद कासिम ने अरबों की सत्ता स्थापित की |
११९१ – तराईन का प्रथम युद्ध – मोहम्मद गौरी और पृथ्वी राज चौहान के बीच हुआ था | चौहान की विजय हुई |
११९२ -तराईन का द्वितीय युद्ध – मोहम्मद गौरी और पृथ्वी राज चौहान के बीच| इसमें मोहम्मद गौरी की विजयहुई |
११९४ -चंदावर का युद्ध – इसमें मुहम्मद गौरी ने कन्नौज के राजा जयचंद को हराया |
१५२६ -पानीपत का प्रथम युद्ध -मुग़ल शासक बाबर और इब्राहीम लोधी के बीच |
१५२७ -खानवा का युद्ध – इसमें बाबर ने राणा सांगा को पराजित किया |
१५२९ -घाघरा का युद्ध -इसमें बाबर ने महमूद लोदी के नेतृत्व में अफगानों को हराया |
१५३९ – चौसा का युद्ध – इसमें शेरशाह सूरी ने हुमायु को हराया |
१५४० – कन्नौज (बिलग्राम का युद्ध) : इसमें फिर से शेरशाह सूरी ने हुमायूँ को हराया व भारत छोड़ने पर मजबूरकिया |
१५५६ – पानीपत का द्वितीय युद्ध :अकबर और हेमू के बीच |
१५६५ – तालीकोटा का युद्ध : इस युद्ध से विजयनगर साम्राज्य का अंत हो गया क्यूंकि बीजापुर,बीदर,अहमदनगर व गोलकुंडा की संगठित सेना ने लड़ी थी |
१५७६ – हल्दी घाटी का युद्ध : अकबर और राणा प्रताप के बीच, इसमें राणा प्रताप की हार हुई |
१७५७ – प्लासी का युद्ध : अंग्रेजो और सिराजुद्दौला के बीच, जिसमे अंग्रेजो की विजय हुई और भारत में अंग्रेजीशासन की नीव पड़ी |
१७६० – वांडीवाश का युद्ध : अंग्रेजो और फ्रांसीसियो के बीच, जिसमे फ्रांसीसियो की हार हुई |
१७६१ -पानीपत का तृतीय युद्ध :अहमदशाह अब्दाली और मराठो के बीच | जिसमे फ्रांसीसियों की हार हुई |
१७६४ -बक्सर का युद्ध : अंग्रेजो और शुजाउद्दौला, मीर कासिम एवं शाह आलम द्वितीय की संयुक्त सेना के बीच| अंग्रेजो की विजय हुई | अंग्रेजो को भारत वर्ष में सर्वोच्च शक्ति माना जाने लगा |
१७६७-६९ – प्रथम मैसूर युद्ध : हैदर अली और अंग्रेजो के बीच, जिसमे अंग्रेजो की हार हुई |
१७८०-८४ – द्वितीय मैसूर युद्ध : हैदर अली और अंग्रेजो के बीच, जो अनिर्णित छूटा |
१७९० – तृतीय आंग्ल मैसूर युद्ध : टीपू सुल्तान और अंग्रेजो के बीच लड़ाई संधि के द्वारा समाप्त हुई |
१७९९ – चतुर्थ आंग्ल मैसूर युद्ध : टीपू सुल्तान और अंग्रेजो के बीच , टीपू की हार हुई और मैसूर शक्ति का पतनहुआ |
१८४९ – चिलियान वाला युद्ध : ईस्ट इंडिया कंपनी और सिखों के बीच हुआ था जिसमे सिखों की हार हुई |
१९६२ – भारत चीन सीमा युद्ध : चीनी सेना द्वारा भारत के सीमा क्षेत्रो पर आक्रमण | कुछ दिन तक युद्ध होने केबाद एकपक्षीय युद्ध विराम की घोषणा | भारत को अपनी सीमा के कुछ हिस्सों को छोड़ना पड़ा |
१९६५ – भारत पाक युद्ध : भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध जिसमे पाकिस्तान की हार हुई | फलस्वरूपबांग्लादेश एक स्वतन्त्र देश बना |
१९९९ -कारगिल युद्ध : जम्मू एवं कश्मीर के द्रास और कारगिल क्षेत्रो में पाकिस्तानी घुसपैठियों को लेकर हुएयुद्ध में पुनः पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा और भारतीयों को जीत मिली |

You may also like...