Category: Environment

टिकाऊ विकास के लिये नदी की इकोलॉजी (Stream ecology)

टिकाऊ विकास के लिये नदी की इकोलॉजी (Stream ecology) नदीभारत की अधिकांश नदियों के गैर-मानसुनी प्रवाह में कमी अनुभव हो रही है। यह कमी हिमालय से निकलने वाली नदियों में योड़ा कम तथा भारतीय...

जल संसाधन संरक्षण एवं विकास

जल संसाधन संरक्षण एवं विकास जल एक बहुमूल्य संसाधन है। यह कहीं विकास का तो कहीं विनाश का कारक बनता है। जनसंख्या वृदधि एवं भावी आवश्यकता को देखते हुए जल के एक-एक बुंद की...

हिम क्षेत्र एवं हिमनद क्या है?

हिम क्षेत्र एवं हिमनद क्या है? हिम रेखा के ऊपर स्थित उस भाग को हिम क्षेत्र कहते हैं, जहाँ सदैव हिम आच्छादित रहती है। ये क्षेत्र सर्वत्र स्थायी रूप में सीमाबन्धन होकर ऋतु परिवर्तन...

मृदा प्रदूषण क्या है ? एवं रोकने के उपाय

मृदा प्रदूषण क्या है? एवं रोकने के उपाय भूमि अथवा भू एक व्यापक शब्द है, जिसमें पृथ्वी का सम्पूर्ण धरातल समाहित है किन्तु मूल रूप से भूमि की ऊपरी परत, जिस पर कृषि की...

इंटरनेट की लत बिगाड़ रही है दिमाग की केमेस्ट्री

इंटरनेट की लत बिगाड़ रही है दिमाग की केमेस्ट्री इटरनेट ने हमारे जीवन को कई मायनों में बदलकर रख दिया है। इसने हमारे जीवन स्तर को ऊंचा कर दिया है और कई कार्यों को...

अपोलो-11 मिशन के 51 वर्ष

अपोलो-11 मिशन के 51 वर्ष  पृथ्वी के इतर किसी आकाशीय पिंड पर मानव द्वारा कदम रखने की 50वीं वर्षगांठ 20 जुलाई, 2019 को मनायी गयी। उल्लेखनीय है 20 जूलाई, 1969 को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी...

बाघ प्रजातियां(TIGER species)

बाघ प्रजातियां (TIGER species) पूरे विश्व में बाघ की 9 प्रजातियां रही हैं जिनमें से तीन प्रजातियां विलुप्त हो चुकी हैं। ये प्रजातियां निम्नलिखित हैं; 1. अमूर (या साइबेरियन टाइगर ): बाघ की उप-प्रजातियों...

भूमिगत जल प्रबंधन

भूमिगत जल प्रबंधन (Underground Water Management) विशेषज्ञों का मानना है कि अगले कुछ दशकों बाद धरती पर पानी की जबर्दस्त किल्लत महसूस की जाएगी । जल बहुल क्षेत्र जल-विरल हो गए हैं और जल-विरल क्षेत्रों...

भारत में संकटापन्न प्रजातियाँ

भारत में संकटापन्न प्रजातियाँ(Endangered-species-in-india) नॉदर्न रिवर टेरापिन (Northern River Terrapin): यह भारत की सर्वाधिक संकटापन्न कछुआ प्रजातियों में से एक है। इसका वैज्ञानिक नाम बतागुर बास्का (Batagur baska) है। विश्व की 50 सर्वाधिक संकटापन्न...