Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_grid_manager_object.labels.php on line 2

Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_shortcode_object.labels.php on line 2

Warning: Creating default object from empty value in /home/vwebqlld/public_html/examguider.com/wp-content/plugins/widgetize-pages-light/include/otw_labels/otw_sbm_factory_object.labels.php on line 2
UPSC क्रैक करना मुश्किल…पर नामुमकिन नहीं, आप भी बन सकते हैं IAS – Exam Guider

UPSC क्रैक करना मुश्किल…पर नामुमकिन नहीं, आप भी बन सकते हैं IAS

UPSC क्रैक करना मुश्किल…पर नामुमकिन नहीं, आप भी बन सकते हैं IAS

शिवानी कपूर
आईएएस बनने का सपना देखने वालों के लिए बड़े काम का टिप, अगर यूपीएससी क्रैक करना है तो ये 10 नंबरी फार्मूला अपनाएं, टेंशन लेने की जरूरत ही नहीं।

देश-विदेश के घटनाक्रम से अपडेट रहें कंपनी सेक्रेटरी की पढ़ाई पूरी करने के बाद शिवानी, जॉब करने की बजाय खुद की मेहनत से सिविल सर्विसेज की तैयारियों का रास्ता चुना और सिविल सर्विसेज में 469 रैंक हासिल कर शिवानी ने पंचकूला का नाम रोशन किया है। सेक्टर-10 पंचकूला में रहने वाली शिवानी कपूर ने अपनी तैयारियों के दौरान दो वर्ष तक उन्होंने टीवी और अखबार के जरिये देश-विदेश के घटनाक्रम से नियमित तौर पर अपडेट रहीं।
*****************
ICS ACADEMY( SINCE 1999)
IAS , MPPSC, SSC ALL PEB EXAMS
3rd Floor Sunshine Tower Madhav Club Road ujjain M P
E-mail -examguider2014@gmail.com
Www.Examguider.com
*****************
समय व्यर्थ न गंवाएं, दोबारा नहीं मिलेगा बकौल शिवानी सोशल मीडिया भले ही जरूरी है, लेकिन अगर किसी मुकाम को हासिल करना है तो पढ़ाई के साथ-साथ जरूरी है कि खुद को उन बातों से दूर रखें, जिसमें वक्त लगता हो। दो वर्ष तक शिवानी किसी शादी समारोह में भी शरीक नहीं हुईं। कॉमर्स ग्रेजुएट शिवानी ने सिविल सर्विसेज की परीक्षा में समाजशास्त्र को चुना जबकि सामान्य अध्ययन के लिए अन्य विषयों की किताबें और स्टडी मैटेरियल की मदद ली।

प्लानिंग होगी परफेक्ट, तभी होंगे सेलेक्ट सफलता तभी कदम चूमती है, जब आपमें कुछ कर गुजरने का जज्बा हो। दिल में धैर्य हो और फितरत मेहनती। सफल होने के लिए कोई शॉर्ट कट नहीं होता। ऐसा भी समय आता है जब प्रयास सफल न होने पर उम्मीद टूटने लगती है, मन मायूस हो जाता है, लेकिन तमाम हालातों से लड़ने वाला ही विजेता बनता है। यह संदेश उन युवाओं के लिए था, जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं और विफलता मिलने पर हार मानकर बैठ जाते हैं।

हौसला नहीं छोड़ना चाहिए यूपीएससी की परीक्षा में चंडीगढ़ का नाम रोशन करने वाले चार सितारे रविवार को अमर उजाला संवाद में पहुंचे थे। उन्होंने टिप्स दिया कि परीक्षा कोई भी हो, उसके लिए प्लानिंग परफेक्ट होनी चाहिए। परीक्षा की तैयारी में हौसला नहीं छोड़ना चाहिए। अगर कभी ऐसा लगे या खुद में डिमोटिवेशन आए तो उन लोगों को देखें, जो आपके साथ पढ़ रहे हैं। कभी भी जब ऐसी भावना आई तो ऐसा ही किया। इसके अलावा सिविल सर्विस के टॉपर्स की कहानियां उत्साह बढ़ाती हैं।

आईएएस टॉपर अनिकेत
परीक्षा एक समुद्र है, जिसमें खजाना तलाशना है अनिकेत के मुताबिक, सिविल सर्विस परीक्षा और उसकी तैयारी एक समुद्र की तरह है, जिसमें से आपको खजाना तलाशना है। इस परीक्षा की तैयारी के लिए जितना जरूरी है कि क्या पढ़ना है? उससे ज्यादा जरूरी यह तय करना है कि क्या नहीं पढ़ना है? अनिकेत के मुताबिक इस परीक्षा के सभी स्तर पर कोचिंग की जरूरत है। अखबार पढ़ना, वाद-विवाद करना और जो पढ़ा उसे रिकॉल करना बेहद जरूरी है। प्रतियोगी परीक्षाओं की टेस्ट सीरीज काफी मददगार साबित होती है।
ICS ACADEMY( since 1999)
आईएएस टॉपर गौरव कुमार
अपने मुताबिक अपना पाठ्यक्रम चुनना यूपीएससी के सिविल सर्विसेज एग्जाम में 34वीं रैंक पाने वाले गौरव कुमार ने बताया कि परीक्षा को पास करने के लिए परफेक्ट प्लानिंग होनी चाहिए, क्योंकि टाइम लिमिटेड होता है। एक रिजल्ट आने से पहले दूसरी परीक्षा की तैयारी शुरू करनी पड़ती है। परीक्षा से संबंधित बहुत सा पाठ्यक्रम उपलब्ध है। परीक्षार्थी को अपने मुताबिक अपना पाठ्यक्रम चुनना होता है। परीक्षा पास करने के लिए ग्रुप स्टडीज काफी मायने रखती है।

आईएएस टॉपर मेघा अरोड़ा
खुद को प्रेरित करना जरूरी यूपीएससी की सिविल सर्विस परीक्षा में 108वीं रैंक हासिल करने वाली मेघा अरोड़ा कहती हैं कि यह काफी लंबी परीक्षा है। अच्छा पेपर देने के बाद भी पक्के तौर पर यह नहीं मान सकते की आप चुन लिए गए हैं। इसलिए खुद को प्रेरित करना बेहद जरूरी है। इस परीक्षा को पास करने के लिए जो आप टाइम टेबल बनाते हैं, उसका कम से कम 80 फीसदी तो फॉलो करें। कभी मन में ऐसी बात न आने दें कि अगर फेल हो गए तो लोग क्या कहेंगे? असल में यह पढ़ाई की एक तरह की ओवरडोज है। मेघा के मुताबिक, उन्हें कई बार लगा कि किस चक्कर में पड़ गए, लेकिन यह गलत है। ऐसी भावना मन में कभी न आने दें।

सिविल सर्विस परीक्षा पास करने के टिप्स प्लानिंग- यह सबसे महत्वपूर्ण है। योजना बनाकर पढ़ने से उलझते नहीं है। धैर्य- यह ऐसी परीक्षा है, जो धैर्य रखकर ही पास की जा सकती है। एक हार के बाद धैर्य नहीं छोड़ना। ग्रुप स्टडी- सिविल सर्विस की परीक्षा को पास करने में ग्रुप स्टडी बहुत काम आती है। लाइब्रेरी में जाकर साथी मिल जाते हैं।

रिविजन- जो एक बार पढ़ लिया, उसे यह समझ लें की सब कुछ समझ आ गया। रिविजन करने से कुछ प्वाइंट्स सामने आते हैं। लिस्ट ऑफ सोर्स- आप सब कुछ हर किताब से नहीं पढ़ सकते। एक सूची बनाएं कि आपको पढ़ना क्या है। पुराने पेपर- सिविल सर्विस परीक्षा के पुराने पेपर काफी काम आते हैं। इससे यह पता चल जाता है कि किस प्रकार के प्रश्न आते हैं।

लिखने की कला- प्रश्नों के उत्तर लिखने की कला आनी चाहिए। बार-बार लिखने से यह प्रेक्टिस होती है। इससे वाइब्रेशन आती हैं। अगले की तैयारी- एक बार परीक्षा देकर यह सोचें की पास हो गए। रिजल्ट आने से पहले अगली बार फिर से पेपर देने की तैयारी शुरू करें। सेल्फ टेस्टिंग- खुद को परखने के लिए अपनी परीक्षा लें। आप कितनी मेहनत करते हैं, यह आपको ही पता है। जैसे हैं वैसे रहें- इंटरव्यू के वक्त बनावटी बनने के बजाय जैसे हैं वैसे रहें।
Read more
Www.examguider.com

You may also like...